मेयर और कौंसलरों पर ‘तमाचा’: करप्शन के आरोप में जिस इंस्पैक्टर को निगम हाउस में सस्पैंड किया गया था, सरकार ने क्लीन चिट देकर किया बहाल, पढ़ें लेटर

डेली संवाद, जालंधर

नगर निगम जालंधर के बिल्डिंग ब्रांच के जिस इंस्पैक्टर को करप्शन के आरोप में मेयर जगदीश राजा औऱ हाउस ने सस्पैंड किया था, सरकार ने उसे आज बहाल कर दिया।

कौंसलर राजीव ओंकार टिक्का में निगम हाउस की बैठक में इंस्पैक्टर निर्मलजीत वर्मा पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाया था। इस पर हाउस ने सर्वसहमत से इंस्पैक्टर निर्मलजीत वर्मा को सस्पैंड कर दिया था।

पढ़ें बहाली का पत्र

अब सरकार ने निर्मलजीत वर्मा को क्लीन चिट देते हुए बहाल कर दिया है। स्थानीय़ निकाय विभाग के डायरैक्टर करुणेश शर्मा ने कहा है कि इंस्पैक्टर निर्मलजीत वर्मा ने अपना पक्ष रखा। इसके बाद इंस्पैक्टर को बहाल कर दिया गया है।

हमारा पक्ष सुना ही नहीं गया, हाउस की राय जरूर लेना चाहिए – टिक्का

कौंसलर राजीव ओंकार टिक्का ने कहा है कि ये निगम हाउस की तौहीन है। जिस इंस्पैक्टर पर करप्शन का आरोप लगाकर पूरे हाउस ने सस्पैंशन की मांग की। मेयर ने सस्पैंड किया।

अब डायरैक्टर ने बिना मेयर और कौंसलरों का पक्ष जाने ही एकतरफा काम किया है। ये सरासर गलत है। इसका अगली हाउस की बैठक में विरोध करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे…

Spread the love

1 COMMENT

  1. Good Capt Amarinder ji , suspend inspector who demanded bribe from my relative Suresh Sehgal & please do justice with him
    Corrupt commissioner MCJ not acting on my complaints since last two months !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here