PM मोदी बोले- वो कहते हैं ‘चौकीदार चोर है’, लेकिन IT रेड में नोट कहां से निकले

लातूर। महाराष्ट्र के लातूर मे पीएम नरेंद्र मोदी और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने करीब 28 महीने बाद मंगलवार को एक मंच साझा किया। इस दौरान मोदी ने मध्य प्रदेश में आयकर के छापों पर कांग्रेस पर निशाना साधते आरोप लगाया कि प्रधान विपक्षी दल का ‘भ्रष्टाचार चरित्र’ है।

उन्होंने कहा कि वे पिछले छह महीने से कह रहे है, ‘चौकीदार चोर है’ लेकिन देखिए नोट कहां से मिले हैं। चौकीदार से कौन डरता है? अगर इतना पैसा बरामद हो रहा है तो उनका चौकीदार को गाली देना स्वाभाविक है। पीएम मोदी ने कहा “ आपने देखा होगा कल.परसों कैसे कांग्रेस के दरबारियों के घर से बक्सों में नोट निकले हैं, नोट से वोट खरीदने का ये पाप इनकी राजनीतिक संस्कृति रही है। ये पिछले छह महीनों से बोल रहे हैं ‘चौकीदार चोर है’ लेकिन नोट कहां से निकले? असली चोर कोन है?

प्रधानमंत्री ने कहा

  • 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो, ये हमारा संकल्प है और इस संकल्प को पूरा करने के लिए हमने 22 फसलों का एमएसपी लागत का डेढ़ गुना तय किया है। हमने बीज से बाज़ार तक पुरानी व्यवस्थाओं को बदलने के लिए काम किया है।
  • जम्मू कश्मीर में 2 प्रधानमंत्री की बात करने वाले लोग क्या जम्मू-कश्मीर के हालात सुधार पाएंगे? इनकी सच्चाई देश के हर व्यक्ति को समझनी चाहिए। अपने वोट बैंक और अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए इन लोगों ने देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया है।
  • कांग्रेस कह रही है कि हिंसा वाले इलाकों में सैनिकों को मिले विशेष अधिकार को वो वापस ले लेंगे। पाकिस्तान भी तो यही चाहता है। कांग्रेस कह रही है कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 कभी नहीं हटाई जाएगी। जो बात कांग्रेस का ढकोसला पत्र कह रहा है, वही बात पाकिस्तान भी कह रहा है। कांग्रेस वाले कह रहे हैं कि हम देशद्रोह का कानून हटाएंगे, अरे मैं कहता हूं कि पहले दर्पण में जाकर अपना मुहं देखो। आप कांग्रेस वाले ही थे जिन्होंने बालासाहेब ठाकरे जी का नागरित्व छीन लिया था, उनका मतदान करने का अधिकार छीन लिया था।
  • नक्सलियों और माओवादियों से मुक्त भारत हमारा संकल्प है। हमारे 5 वर्ष की सबसे बड़ी कमाई है, विश्वास जो हुआ उसके लिए भी आपका ये चौकीदार याद आता है और जो होना चाहिए उसकी भी जिम्मेदारी मेरी ही हिस्से में है। हमारी संस्कृति और परंपरा की रक्षा और राष्ट्र की सुरक्षा के लिए ही हमारे सारे काम और संकल्प है। घुसपैठ को पूरी तरह बंद करेंगे, ये हमारा संकल्प है। नक्सलियों पर प्रहार करेंगे और आदिवासियों तक विकास का लाभ पहुंचाने के लिए हमने दिन रात मेहनत की है।
  • आतंकवादियों के अड्डे पर घुस कर मारेंगे ये नये भारत की नीति है। आतंक को हराकर ही हम दम लेंगे ये हमारा संकल्प है। जम्मू कश्मीर में राष्ट्रवादियों के मन में हमने नया विश्वास जगाया है।
  • राष्ट्रवाद हमारी प्रेरणा है। अंत्योदय हमारा दर्शन है और सुशासन हमारा मंत्र है। इसी भावना पर नए भारत के निर्माण के लिए हम देश के हर नागरिक की भागीदारी चाहते हैं।
  • छत्रपति शिवाजी महाराज जैसे महाराष्ट्र की धरती के शूरवीरों ने जिस प्रकार से स्वाभिमानी और शक्तिशाली राष्ट्र की कल्पना की थी, आज उसी रास्ते पर भारत चल पढ़ा है। इस भयंकर ताप में आप जो तपस्या कर रहे हैं उसको मैं बेकार नहीं जाने दूंगा। इसे मैं ब्याज समेत विकास करके लौटाऊंगा। आपका ये आशीर्वाद ही है जो मुझे निरंतर काम करने की प्रेरणा देता है।
  • 2014 में हम आपके सामने कुछ लक्ष्य लेकर आये थे। इन लक्ष्यों को पूरा करने में आपने जो मेरा साथ दिया है, उसके लिए मैं हमेशा आपका आभारी रहूंगा।
  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के जरिए अभी 12 करोड़ छोटे और सीमांत किसानों के खातों में आज सीधे पैसे जमा हो रहे हैं। और भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में घोषित किया है कि चुनाव के बाद हमारी नई सरकार आते ही इस योजना को आगे बढ़ाकर सारे किसानों को इस योजना का लाभ दिया जायेगा।
  • 2022 तक हर बेघर को पक्का घर देना हमारा संकल्प है। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत हमारी सरकार ने 50 करोड़ गरीबों के लिए हर वर्ष मुफ्त इलाज का प्रबंध किया है। अब हमने हर गरीब के दरवाज़े पर प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाएं ले जाने का संकल्प लिया है।

हिन्दी न्यूज़ Updates पाने के लिए आप हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।

Spread the love