8 हेलिकॉप्टर और दो प्लेन से योगी के मंत्री पहुंचेंगे प्रयागराज, कुंभनगरी में होगी कैबिनेट बैठक, हिंदुत्व का होगा एजैंडा

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश के इतिहास में पहली बार कैबिनेट की बैठक राजधानी लखनऊ के बाहर प्रयागराज में चल रहे कुंभ में संगम तट पर होगी। मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में गांव, किसान के साथ ही हिंदुत्व के कोर अजेंडे को साधने की दिशा में फैसले हो सकते हैं। सूत्रों के अनुसार, योगी कैबिनेट राम मंदिर मसले पर सुप्रीम कोर्ट से जल्द सुनवाई के अनुरोध का प्रस्ताव पास कर सकती है।

चुनावी साल में हो रहे कुंभ में योगी सरकार ने प्रयागराज में कैबिनेट की बैठक ऐसे वक्त में रखी है जब इसके दो दिन बाद ही वहां धर्म संसद होनी है, जिसका मुख्य अजेंडा ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण है। संत और समर्थक दोनों ही इसके लिए केंद्र-प्रदेश सरकार पर कानून का दबाव बना रहे हैं। ऐसे में कैबिनेट राम मंदिर पर सरकार की प्रतिबद्धता दिखाने के लिए इससे जुड़े कुछ प्रस्ताव पास कर सकती है।

बैठक में आस्था और राष्ट्रवाद का भी संगम

प्रयागराज में संगम तट पर मंगलवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक में आस्था और राष्ट्रवाद का भी संगम होगा। योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में सरकार के 22 कैबिनेट मंत्री जहां दर्शन, पूजन के साथ ही कुंभ में डुबकी लगाएंगे, वहीं सर्जिकल स्ट्राइक पर बनी फिल्म उरी भी कैबिनेट को दिखाने की तैयारी है। बैठक मेला क्षेत्र में बने इंटीग्रेटेड कमांड ऐंड कंट्रोल सेंटर में 11 बजे शुरू होगी।

इससे पहले मुख्यमंत्री सहित पूरी कैबिनेट अक्षयवट, सरस्वती कूप और हनुमान मंदिर जाकर दर्शन-पूजन करेगी, जबकि कैबिनेट के बाद संगम में डुबकी लगाने जाएंगे। इसके बाद प्रयागराज में स्थित नाथ संप्रदाय के अखाड़े में मंत्री भोजन करेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरक्षपीठ के महंत के तौर पर स्वयं मेजबान की भूमिका में रहेंगे।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 8847567663 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।

Spread the love