IDP अब ऐजुकेशन फेयर लगाने को लेकर विवादों में घिरी, नियमों के उल्लंघन को लेकर हो सकती है कार्रवाई

संगीता मौर्या
डेली संवाद, जालंधर
इमीग्रेशन कंस्लटेंट कंपनी IDP ऐजुकेशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड अब ऐजुकेशन फेयर लगाने को लेकर विवादों में घिर गई है। विवादित कंपनी आईडीपी ने लुधियाना-जालंधर में 24-25 जनवरी को यह ऐजुकेशन फेयर स्थानीय होटलों में रखा है। कानूनी दृष्टि से देखने पर उक्त फेयर को इमीग्रेशन कानून के लाइसेंस नियमों के प्रत्यक्ष उल्लंघन के रूप में देखा जा रहा है।

कंपनी के पास लुधियाना के डिस्टि्रक्ट मेजिस्ट्रेट से हासिल किया लाइसेंस है जो कि आशीष अरोड़ा पुत्र मनोहर लाल अरोड़ा के नाम पर है। लाइसेंस में आफिस का पता एससीओ 41, पहली मंजिल फिरोज गांधी मार्किट, भाई बाला चौक, लुधियाना रजिस्टर्ड किया गया है। इसी लाइसेंस में ही स्पष्ट लिखा है कि लाइसेंस धारक अपना विदेश जाने संबंधी सलाह देने का धंधा दिए गए पते पर ही कर सकता है।

बावजूद इसके कंपनी संचालक ने एक ऐजुकेशन फेयर को रजिस्टर्ड आफिस पते के बाहर हयात रिजैंसी में 24 जनवरी को तथा दूसरा जालंधर के होटल में 25 जनवरी को रखा है। जाहिर बात है कि विदेशी शिक्षा बारे सलाह देने वाला स्थान अब होटल हो जाएगा। इसे लेकर शिकायतें भी शुरू हो गई है।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 8847567663 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।

Spread the love