पंजाब में पकड़ा गया फर्जी SP निकला बड़ा अय्याश, अलग-अलग चार लड़कियों से की शादी, कईयों को ठगा

कपूरथला। थाना सीआइए स्टाफ द्वारा गिरफ्तार आरपीएफ के फर्जी एसपी बड़ा अय्याश निकला। वह रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी तो करता ही था साथ ही वह लड़कियों को भी अपने जाल में फंसाता था। उसने एक नहीं बल्कि कई लड़कियों को अपने जाल में फंसाया। उसने चार शादियां की। दो ने तो उसके खिलाफ केस भी दर्ज करवाया था।

आरपीएफ के फर्जी एसपी सुरजीत सिंह ने अपनी स्कॉर्पियो पर भारत सरकार का स्टीकर लगवाया हुआ था। वह इंटरनेट से रेलवे के एसपी की वर्दी तैयार करवाकर भोले भाले लोगों को जहां रेलवे में नौकरी का झांसा देकर लाखों की ठगी करता था। यही नहीं, अपनेआप को आरपीएफ एसपी बताकर उसने चार शादियां की। एक विवाह उसने 16 जून 2012 को अमृतसर की रहने वाली एक लड़की से की।

#MeToo: जालंधर की महिला का सनसनीखेज आरोप, बोली-पुलिस थाने शिकायत करने गई तो SHO ने स्तन को घूरते हुए कहा शाम को अकेले में मिलो

इस मामले में लड़की ने उसके खिलाफ मामला दर्ज करवाया था। मामले में वह भगोड़ा था। इसके अलावा उसने जलालाबाद निवासी युवती से भी शादी की थी। उक्त लड़की ने उसके खिलाफ दहेज की मांग करने व दूसरा विवाह करवाने का मामला दर्ज करवाया था।

बता दें, सीआइए स्टाफ की पुलिस की ओर से नाकांबदी के दौरान अपनेआप को रेलवे पुलिस का एसपी बताने वाले सुरजीत सिंह व उसके पिता को उस समय गिरफ्तार किया गया था जब दोनों पिता-पुत्र रेलवे में नौकरी का झांसा देकर ठगी मारने की तैयारी करते हुए आरसीएफ को जा रहे थे। पुलिस ने दोनों पिता पुत्र से रेलवे की फर्जी मोहरें, एसपी का फर्जी कार्ड व नकली रिवालवर व अन्य कई दस्तावेज बरामद किए गए हैं।

इस संबंध में जब सीआइए स्टाफ के इंचार्ज इंस्पेक्टर सुरिंद्र चांद बातचीत की तो उन्होंने कहा कि काबू किए रेलवे के फर्जी एसपी से पूछताछ दौरान चार विवाह करवाने की बात कबूली गई है, जिसमें दो का पता लग गया है। उन्होंने कहा कि काबू किए आरोपियों से और भी कई अहम खुलासे हो सकते हैं। (credit-jagran)

जालंधर में गैंगरेप: पीड़िता की जुबानी, कैसे उसके जिस्म को दो हैवानों ने लूटा..देखें VIDEO

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे…

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here