अवैध कालोनियों के लपेटे में निगम कमिश्नर, मंत्री सिद्धू से शिकायत, ये अफसर होंगे सस्पैंड

संगीता मौर्या
डेली संवाद, जालंधर
नगर निगम के अफसरों और इंस्पैक्टरों की मेहरबानी से शहर के अंदर और बाहर अवैध कालोनियों का जाल और निर्माणों की बाढ़ आ गई है। जिससे नगर निगम के खजाने को करोड़ों रुपए का चूना लगाया जा रहा है। जालंधर सैंट्रल हलके और नार्थ हलके में एक के बाद एक कई अवैध कालोनियां विकसित हो गई हैं।

जानकारी के मुताबिक नगर निगम के कुछ इंस्पैक्टर आजकल अवैध कालोनियों में ही अपना दफ्तर बना लिया है। इसमें उनका साथ कुछ कौंसलर दे रहे हैं। सैंट्रल हलके और नार्थ हलके में करीब 20 ऐसी अवैध कालोनियां काटी गई हैं, जिससे सरकार को करोड़ों रुपए की चपत लगी है। इसकी शिकायत आरटीआई एक्टिविस्ट चड्ढा ने भी मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से की गई है।

लद्देवाली रोड, रामामंडी, तल्हण रोड, होशियारपुर रोड, सलेमपुर मुसलामाना, वेरका मिल्क प्लांट के पीछे कालोनियां विकसित की जा रही हैं। लेकिन इलाके के इंस्पैक्टरों के आंखों में काली पट्टी बंध गई है। स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से की गई शिकायत में निगम कमिश्नर को भी पार्टी बनाया गया है। जिससे बिल्डिंग ब्रांच के एक एटीपी समेत कुछ इंस्पैक्टरों पर गाज गिरन वाली है।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 8847567663 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।

Spread the love