राकेश राठौर का प्रयास रंग लाया, सऊदी में फंसे पंजाबियों को स्वदेश लाने में मदद करेगी केंद्र सरकार

राकेश राठौर के प्रयास से सुषमा स्वराज के दखल से इंडियन एम्बेसी सऊदी अरेबिया मे फंसे भारतीयों के पास पहुंची

महाबीर जायसवाल
डेली संवाद, जालंधर/नई दिल्ली

सऊदी अरेबिया मे बिना वीजा के फसे लगभग 3 हज़ार भारत वासियों के पक्ष मे पंजाब भाजपा के महामंत्री राकेश राठौर द्वारा उठाए आवाज़ भारत सरकार की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तक पहुंच गई है। जिसके बाद भारत सरकार हज़ारों की संख्या मे फंसे भारतीयों के लिए वरदान बनकर कार्य करने मे जुट गई है।

आज सऊदी अरेबिया मे फसे पंजाबियों के परिवार पंजाब भाजपा के महामंत्री राकेश राठौर के नेतृत्व मे राज्यसभा सांसद पंजाब भाजपा प्रधान श्वेत मलिक से दिल्ली में उनके निवास स्थान पर मिला। जहा राज्यसभा सांसद व पंजाब भाजपा प्रभारी प्रभात झा, पंजाब भाजपा के संगठन मंत्री दिनेश कुमार, महामंत्री प्रवीन बांसल, महामंत्री दयाल सिंह सोढ़ी, उप-प्रधान जीवन गुप्ता व पंजाब युवा भाजपा के मीडिया इंचार्ज अशोक सरीन हिक्की भी उपस्थित थे।

विदेश मंत्रालय ने बिना वीजा के फंसे भारतियों को भी जल्द वापस लाने की करवाई शुरू कर दी है – मलिक

वहां पंजाब भाजपा के प्रमुख नेताओं ने सऊदी अरब मे फसे पंजाबियों के परिवार को आश्वासन दिया कि सऊदी अरब मे फसे पंजाबियों को वापस लाने की जिम्मेवारी हमारी है। जिसके लिए पंजाब भाजपा पूर्ण प्रयास करेगी। इस अवसर पर राकेश राठौर ने बताया कि बीते शनिवार को उनके ध्यान मे यह मामला आया था।

इशके बाद उन्होंने इस विषय को सांसद श्वेत मलीक व केंद्रीय भाजपा नेताओं के समक्ष उठाया था। जिसके बाद पिछले छह महीनों से फंसे पंजाबियों के पास सऊदी अरब में इंडियन एम्बेसी के अधिकारी पहुंच गए थे और उसी दिन से फंसे भारत वासियों को दवाई, साबुन व जरूरतमंद वस्तु उपलब्ध करवा रहे हैं। जो लोग पिछले 6 महीनो से भारत वासी बिना वीजा, बिना वेतन, बिना दवाई मिलने एवं एक ही हाल मे बंद थे।

जिनके पास वीजा है, पैसे टिकट नहीं, उनको एम्बेसी टिकट दे वापस भेजने मे लगी

इतना ही नही रयाद मे भारत एम्बेसी ने भारत वासियों के सहयोग के लिए उनको 24 घंटे के लिए हेल्प लाइन नम्बर दिया है। कहा गया है कि जिनके पास वीजा है पर टिकट के लिए पैसे नही है उनको भारत सरकार की एम्बेसी ने टिकट दे वापिस भेजना शुरू कर दिया है। इस अवसर पर सांसद श्वेत मालिक ने पीड़ित परिवारों से भेंट कर उनको बताया कि यह मामला विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री जरनल वी.के सिंह एवं भारत सरकार के ध्यान मे आ गया है।

इसे भी पढ़ें: नगर निगम में लाखों रुपए के घोटाले का ‘डेली संवाद’ ने किया पर्दाफाश, मेयर ने रोके ये सभी प्रस्ताव, पढ़ें एफएंडसीसी मीटिंग में क्या हुआ

इसलिए विदेश मंत्रालय ने बिना वीजा के फंसे सभी भारतियों को वापस लाने की कानूनी कारवाई शुरू कर दी है। बहुत जल्द बिना वीजा के फंसे भारत वासियों के भारत आने का रास्ता साफ हो जाएगा। परंतु जब तक अंतिम भारत वासी वापस नही आता तब तक वहा फंसे सभी भारत वासियों के इलाज एवं उनको जरूरतमन्द वस्तु भारत एम्बेसी मुहैया करवाएगी।

श्वेत मलीक ने बताया कि इस विषय पर सुषमा स्वराज व केंद्रीय राज्य विदेश मंत्री जरनल वी.के सिंह ने सम्बंधित विदेश मंत्रालय के अधिकारियों की जिम्मेदारी लगाई है। अधिकारी जल्द सारी रिपोर्ट तैयार कर मंत्रालय को सौंपेगे। श्वेत मलीक ने कहा कि दोबारा इस तरह कोई भारत वासी विदेश में न फंसे उसके लिए यह मामला देश की राज्यसभा मे भी उठाएंगे। इस मौके पर धर्मवी, जसपाल दुग्गल, गुरजीत सिंह व हरमेश सिंह, कुलदीप गिल, गुरप्रीत सिंह, सुरिंदर सिंह उपस्थित थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे…

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here